क्या मधुमेह से लड़ने में विटामिन डी मदद कर सकता है Can Vitamin D Help In Fight Diabetes

Can Vitamin D Help In Fight Diabetesमधुमेह जिस तरह से लोगों मे दिनो दिन बढ़ रहा है, यह बीमारी महामारी का रूप धारण कर रहा है। मधुमेह से निपटने के लिए ठोस कदम उठाने की जरूरत है। एक अध्ययन से पता चला है कि विटामिन डी मधुमेह के उपचार करने मे मदद कर सकता है।

इन दिनो संयुक्त राज्य अमेरिका में लगभग 30 मिलियन लोग टाइप 2 मधुमेह से ग्रसित है जो आजीवन दवाईयाँ खाने के लिए मजबूर है।

मोटापा बढ़ना मधुमेह होने के प्रमुख कारणों में से एक है। डायबिटीज की स्थिति अग्नाशय में दोषपूर्ण बीटा कोशिकाओं के कारण होता है। यही कोशिकाएं इंसुलिन का निर्माण और रिलीज करने का काम करती हैं।

यदि बीटा कोशिकाएं बहुत कम मात्रा में इंसुलिन का उत्पादन करती हैं, या बिल्कुल भी नहीं करती है, तो ग्लूकोज का स्तर रक्त में बढ़ जाता है। जो कोशिकाओं और ऊतकों के लिए विषाक्त होता हैं।

एक नये अध्ययन में बीटा कोशिकाओं की रक्षा करने के लिए एक नए तरीके पर ध्यान दिया गया। जिससे मधुमेह की शुरुआत धीमी हो गई। शोधकर्ताओं ने विटामिन डी पर अपना ध्यान केंद्रित किया।

विटामिन डी और मधुमेह Vitamin D And Diabetes

विटामिन डी को अक्सर सूर्य के धूप से मिलने वाला विटामिन के रूप में जाना जाता है क्योंकि यह प्रत्यक्ष सूर्य के प्रकाश से हमारे त्वचा में बनता है। पिछले अध्ययनों में कम विटामिन डी के स्तर होने से मधुमेह का जोखिम के बीच संबंध पाया गया है।

विटामिन डी कोशिकाओं की वृद्धि, हड्डियों के रखरखाव, न्यूरोमस्कुलर गतिविधियां और प्रतिरक्षा प्रणाली में सहयोग करता है। यह सूजन मे भी लाभकारी है। मधुमेह सूजन के वजह से होने वाली बीमारी है। इस निष्कर्ष तक पहुंचने के लिए, शोधकर्ताओं ने भ्रूण स्टेम कोशिकाओं का उपयोग करके बीटा कोशिकाओं का निर्माण किया। फिर, उन्होंने इस बात की जांच करने के लिए यौगिकों का परीक्षण किया कि उनके ऊपर क्या इसका क्या प्रभाव पड़ा।

विटामिन डी को बीटा कोशिकाओं में बढ़ावा देना Promote Vitamin D In Beta Cells

शोध करने वालों ने पाया कि एक विशेष यौगिक – जिसे iBRD9 कहा जाता है – ने विटामिन डी रिसेप्टर्स की गतिविधि को बढ़ावा दिया।इससे बीटा कोशिकाओं पर सुरक्षात्मक असर पड़ा।

उन्होंने इस अध्ययन में पाया कि , iBRD9 ने ग्लूकोज के स्तर को सामान्य सीमा में वापस ला दिया।

विटामिन डी से स्वास्थ्य लाभ Health Benefits From Vitamin D

विटामिन डी को सूर्य के धूप से मिलने वाला विटामिन के रूप में भी जाना जाता है, यह शरीर द्वारा सूर्य के संपर्क मे आने से प्रतिक्रिया के रूप में निर्मित होता है। विटामिन डी को भोजन या पूरक आहार के रूप में भी लिया जा सकता है।

विटामिन डी हड्डियों और दांतों को स्वस्थ बनाए रखने के साथ यह टाइप 1 मधुमेह, कैंसर और मल्टीपल स्केलेरोसिस जैसी कई बीमारियों मे लाभकारी है।

विटामिन डी का हमारे शरीर में कई भूमिकाएँ हैं, यह निम्न लिखित में लाभकारी हैं –

  • हड्डियों और दांतों के स्वास्थ्य को ठीक रखने में मदद करता है।
  • प्रतिरक्षा प्रणाली, तंत्रिका तंत्र और मस्तिष्क के स्वास्थ्य मे लाभकारी है।
  • इंसुलिन के स्तर को विनियमित करने तथा मधुमेह प्रबंधन में सहयोग करता है।
  • फेफड़े का कार्यक्षमता और हृदय स्वास्थ्य को ठीक रखने में मदद करता है।
  • कैंसर के विकास में शामिल जीन को प्रभावित करता है।

विटामिन डी क्या है? What Is Vitamin D?

वास्तव में विटामिन डी कोई विटामिन नहीं है। विटामिन नाम के बावजूद, विटामिन डी एक प्रो-हार्मोन माना जाता है। यह वास्तव में विटामिन नहीं है। सूरज की रोशनी हमारी त्वचा पर पड़ने पर हमारे शरीर द्वारा विटामिन डी को संश्लेषित किया जाता है। एक अध्ययन ने सुझाव दिया है कि वैश्विक आबादी का एक बड़े हिस्से में विटामिन डी की कमी है। Click here

Share this post

Related Post

मधुमेह से होने ...

गुर्दे की जटिलता Kidney Complexity जितना ज्यादा मधुमेह होगा, क्रोनिक किडनी रोग होने का संभावना उतना ही अधिक...

Read More

इंसुलिन क्या ह...

इंसुलिन अग्न्याशय द्वारा बनाया जाने वाला एक हार्मोन है जो हमारे शरीर को भोजन में कार्बोहाइड्रेट से चीनी...

Read More

क्या दवाओं के स...

कार्बोहाइड्रेट वाले भोजन की तरह कई दवाएं जो स्वास्थ्य ठीक रखने के लिए लिया जाता है। कुछ दवाएं...

Read More