Cause And Prevention Of Diabetes In Hindi मधुमेह का कारण और रोकथाम हिन्दी मे

Cause And Prevention Of Diabetes In Hindiमधुमेह एक ऐसी बीमारी है जिसमें रक्त ग्लूकोज, या रक्त शर्करा का स्तर बहुत अधिक होता हैं। ग्लूकोज आपके द्वारा खाए जाने वाले खाद्य पदार्थों से आता है। इंसुलिन एक हार्मोन है जो ग्लूकोज को आपकी कोशिकाओं में ऊर्जा मे परिवर्तित करने में मदद करता है। टाइप 1 मधुमेह मे , आपका शरीर इंसुलिन नहीं बना पाता है। टाइप 2 मधुमेह मे शरीर इंसुलिन को अच्छी तरह से उपयोग नहीं करता है। पर्याप्त इंसुलिन ना होने के कारण, ग्लूकोज आपके खून में रहता है। इसका मतलब है कि आपकी रक्त शर्करा सामान्य से अधिक होता है। टाइप 1 मधुमेह होने से टाइप 2 मधुमेह होने का खतरा हो जाता है।

खून में बहुत ज्यादा ग्लूकोज होने से गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। यह आपकी आंखों, गुर्दे और नसों को नुकसान पहुंचा सकता है। मधुमेह हृदय रोग, स्ट्रोक को प्रभावित करता है यहां तक कि किसी अंग को हटाने की जरूरत भी पड़ सकता है। गर्भवती महिलाओं को भी मधुमेह हो सकता है, जिसे गर्भावस्था का मधुमेह कहा जाता है।

यदि आपको मधुमेह का शक हैं तो रक्त परीक्षण करवा सकते हैं। व्यायाम करके , वजन कम करके और भोजन को सुनियोजित करके मधुमेह को नियंत्रित किया जा सकता है। आपको अपने रक्त ग्लूकोज स्तर का हमेशा ध्यान रखना चाहिए और Diabetes होने पर दवा लेना चाहिए।

मधुमेह का कारण और रोकथाम cause and prevention of diabetes

टाइप 1 मधुमेह के कारण Reasons for Type 1 Diabetes

टाइप 1 मधुमेह तब होता है जब प्रतिरक्षा प्रणाली, पैनक्रिया में इंसुलिन-उत्पादक कोशिकाओं को क्षति पहुँचाती है। नतीजतन, शरीर को सामान्य रूप से कार्य करने के लिए पर्याप्त इंसुलिन नही मिलता है।यानी शरीर मे इंसुलिन की कमी हो जाती है और शरीर स्वयं पर हमला करता है।

मधुमेह होने का वजह अनुवांशिक के अलावा निम्नलिखित भी हो सकते हैं:

  • जीवाणु संक्रमण
  • भोजन में रासायनिक विषाक्त पदार्थ

जब टाइप 1 मधुमेह वाला व्यक्ति मधुमेह का लक्षण विकसित करता है, तो पैनक्रिया में बीटा कोशिकाऐं अधिकांश नष्ट हो चुके होते हैं।

टाइप 2 मधुमेह के कारण

टाइप 2 मधुमेह के कारण मल्टीफैक्टोरियल जटिल होते हैं। अधिक मोटापा और पारिवारिक इतिहास टाइप 2 मधुमेह का कारण होता ।
जब किसी को टाइप 2 मधुमेह का निदान शुरू किया जाता है, तब तक पैनक्रिया में बीटा कोशिका 50% तक आमतौर पर क्षतिग्रस्त हो गया रहता है।
टाइप 2 मधुमेह निम्नलिखित कारणों से हो सकता है Type 2 diabetes may be due to the following reasons

  • परिवार में मधुमेह का इतिहास।
  • मध्यम आयु वर्ग।
  • अधिक वजन या मोटापे से ग्रस्त होना।
  • यदि मध्यम आयु वर्ग के हैं और उच्च रक्तचाप है।
  • यदि कोई माँ 4.5 किलो से अधिक वजन वाले बच्चे को जन्म दिया है, गर्भावस्था मे मधुमेह का निदान किया गया है या पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि सिंड्रोम (पीसीओएस) है।

टाइप 2 मधुमेह होने का मुख्य कारण अपर्याप्त शारीरिक गतिविधि, खराब आहार और कमर के चारों ओर अतिरिक्त वजन है।

मधुमेह के लिए होमियोपैथिक दवा Homeopathic medicines for diabetes

Dibonil drops मधुमेह के लिए होम्योपैथी दवा है जो दुष्प्रभावों रहित है और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के लिए लोकप्रिय है। Dibonil drops मधुमेह के लिए एक वैकल्पिक दवा है जो कोशिकाओं को रक्त शर्करा के स्तर को विनियमित करने के लिए अधिक इंसुलिन उत्पन्न करने के लिए उत्तेजित करता है। अधिक जानकारी के लिए क्लीक करें – Diabetes homeopathic Remedy.

Share this post

Related Post

मधुमेह से होने ...

गुर्दे की जटिलता Kidney Complexity जितना ज्यादा मधुमेह होगा, क्रोनिक किडनी रोग होने का संभावना उतना ही अधिक...

Read More

इंसुलिन क्या ह...

इंसुलिन अग्न्याशय द्वारा बनाया जाने वाला एक हार्मोन है जो हमारे शरीर को भोजन में कार्बोहाइड्रेट से चीनी...

Read More

क्या दवाओं के स...

कार्बोहाइड्रेट वाले भोजन की तरह कई दवाएं जो स्वास्थ्य ठीक रखने के लिए लिया जाता है। कुछ दवाएं...

Read More